Teda Sawaal - Akbar Birbal Ke Rochak Kisse

1

Add to wishlist

DOWNLOAD AS ZIP

Story types

Language Hindi
Length Medium

Story Outline

एक दिन बादशाह अकबर और बीरबल वन-विहार के लिए गए। एक टेढे़ पेड़ की ओर इशारा करके बादशाह अकबर ने बीरबल से पूछा - यह दरख्त टेढा़ क्यों हैं? बीरबल ने जवाब दिया- यह इसलिए टेढा़ हैं क्योंकि यह जंगल के तमाम दरख्तों का साला हैं। बादशाह ने पूछा- तुम ऐसा कैसे कह सकते हो? बीरबल ने कहा- दुनिया में यह बात मशहूर हैं कि कुत्ते की दुम और साले हमेशा टेढे़ होते हैं। बादशाह अकबर ने पूछा- क्या मेरा साला भी टेढा़ है? बीरबल ने फौरन कहा- बेशक जहांपनाह!

Reviews

No customer comments for the moment.

Write a review

Teda Sawaal - Akbar Birbal Ke Rochak Kisse

Teda Sawaal - Akbar Birbal Ke Rochak Kisse

Write a review

30 other stories in the same category: